Category कविता और शायरी

कविता और शायरी एक ही सिक्के के दो पहलू हैं! हिंदी में लिखी गई एक कविता को उर्दू में कविता कहा जाता है, इसे शायरी कहा जाता है। यहां आपको देशभक्ति शायरी, प्रेम शायरी, प्रेरक शायरी, माँ की शायरी, आदि मिलती है।

हिन्दी कविता

हौसला बेमिसाल रखती हूँ

"मीनाक्षी कौर" द्वारा रचित कविता "हौसला बेमिसाल रखती हूँ ", बचा कुछ नहीं ,सब टूटा-टूटा बिखरा है फिर भी न जाने क्यों,उसे दिल से लगाए रखती हूँ।

मैं तुम्हारी पत्नी हूँ

"मीनाक्षी कौर" द्वारा रचित कविता "मैं तुम्हारी पत्नी हूँ", मेरी ही तरह ,मेरी आवाज के नीचे, तुम्हारी अवाज दब जाएगी पर क्या फायदा।।
हिन्दी कविता

मसला कुछ भी नहीं हमारे दरमियान 

"मीनाक्षी कौर" द्वारा रचित कविता "मसला कुछ भी नहीं हमारे दरमियान ",आज हालात इतने बिगड़े है   कि घर को घर नहीं, मैदाने जंग बना रखा है 
हिन्दी की बेहतरीन कविताएं

अरे बात को समझिये

"मीनाक्षी कौर" द्वारा रचित कविता "अरे बात को समझिये",जिसकी बोलती रहे बंद ,जी हजूरी करे, ऐसी बिना सींघ वाली गाय होनी चाहिए।  
हिन्दी कविता

फूल की सीख

"प्रिया गुप्ता" द्वारा रचित कविता "फूल की सीख",रह कर कांटों के मध्य भी,ये नहीं कभी शोक मनाते हैं।महकते इसलिए सभी को भाते हैं।
हिन्दी कविता प्रतीक्षा

प्रतीक्षा

"प्रिया गुप्ता" द्वारा रचित कविता "प्रतीक्षा",इक अनकहा सा इंतजार होता है, हालातों में जहाँ। सब कुछ मुश्किल, अनिश्चित और दुश्वार होता है।।