तनाव मुक्त जिंदगी जीने के 15 तरीके।

इस तथ्य के बावजूद कि तनाव का हमारे जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। फिर भी हम स्वीकार करते हैं , कि यह एक मानसिक विकार हो सकता है। तनावपूर्ण जीवन जीने से हमारी कार्यक्षमता में बाधा आती है।स्वस्थ और खुशहाल जीवन जीने की हमारी क्षमता कम होती है। तनावग्रस्त होने के कारण, आप अधिक बार बीमार पड़ सकते हैं, क्रोधी महसूस कर सकते हैं और यहां तक कि चिढ़ भी सकते हैं। तो आइये जानते है एक तनाव मुक्त जिंदगी कैसे जी जाये।

तनाव मुक्त जिंदगी का रहस्य

1 व्यायाम करें और तनाव भगाएँ :

बचपन से हम सुनते आ रहे है की हमें रोजाना व्यायाम करना चाहिए । पर हम कभी भी इस बात को सीरियसली नहीं लेते। हम व्यायाम करने में आलस करते है। लेकिन व्यायाम हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है।

व्यायाम के समय और बाद में हमारे शरीर की कसरत होती है और उसे आराम भी मिलता है। जिस से हमें नींद लेने में आसानी होती है, और हमारा मूड भी अच्छा रहता है। इसलिए रोज व्यायाम जरुर करे। सुबह की सैर भी बहुत फायदेमंद है।


2 दोस्तों से बात करे :

आपको जब कभी भी लगता है की आप तनाव में है। तो दोस्तों की सहायता लें। । आप अपने दोस्तों से मिले या उनसे फ़ोन पर बात कर सकते है। अपने मित्र से जब आपकी बात होगी थोड़ा हंसी मजाक होगा तो आपका तनाव इससे कम हो जायेगा।

दोस्तों के सुख – दुःख भरी बातें सुनकर आपको जरुर तनाव से राहत मिलेगी। आपकी जिंदगी में 3,4 लोग जरूर ऐसे होने चाहिए जिनसे आप अपने दिल की बात सांझी कर सको।

3 अगर कार्य शुरू किया है तो खत्म भी करो :


हर काम को पूरा करने की कोशिश करो। आपका उत्साह बढेगा। किसी भी काम को अधूरा छोड़ना आपके आत्मविश्वास को कम करता है। और काम को पूरा करने की प्रवृति आपकी कीर्ति और यश दोनों बढ़ाएगी। आप तनाव मुक्त होंगे।

4 अगर तुम सक्षम नही हो तो दूसरों की सहायता लो :


कोई भी हर कार्य में निपुण नही होता है । तो जो कार्य आपके बस में नही है तो जबर्दस्ती न करें। दुसरो की सहायता लें इस से आपका साम्मान काम नही होगा वल्कि आपके संबध अच्छे बनेगे। और आपका कार्य की अच्छे से पूर्ण होगा।

5 उधार को हमेशा चुकता करो :

आपके द्वारा उधार ली गयी बस्तु आपको समय पर खुद बापिस करनी चाहिए । किसी दूसरे की वस्तु उसकी आज्ञा के बिना प्रयोग न करें। इससे आपका विश्वास बना रहेगा । और आपकी छवि भी अच्छी बनेगी। आपकी इज्जत भी होगी। और आप तनाव में भी नही रहोगे।


6 किये हुए वादे से न मूकरें :

रिश्तों में प्रतिबद्धताएं होती है और वफादारी आज के समाज में एक दुर्लभ वस्तु है। अगर आप अपने वायदे को निभाते है तो ये आपको ख़ुशी देगा आपका आत्मसमान बढेगा और तनाव आप से दूर होगा।


शायद सबसे प्रभावशाली चीजों में से एक, जिसे हम किसी अन्य व्यक्ति के लिए कर सकते हैं। वह यह है कि हमने उन्हें बताना चाहिए। कि हम क्या करने जा रहे थे। चाहे हम उसी मूड में हों या नहीं। जब हम यह कहते है । इससे सत्यनिष्ठा का पता चलता है।

7 अपने जीवन में सभी अच्छी चीजों के लिए आभारी रहें :

अतीत इतिहास है, भविष्य एक रहस्य है और ‘अभी’ एक उपहार है, इसलिए इसे “वर्तमान” कहते हैं। आपको पता नहीं है। कि कल क्या लाएगा, इसलिए हर एक क्षण के लिए आभारी रहें जब आप जीवित हैं। अपने परिवार, दोस्तों और स्वतंत्रता के लिए आभारी रहें। आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन के लिए भी आभारी रहें ।


इस तथ्य के लिए कि आपके सिर पर छत के साथ सोने के लिए एक गर्म, सूखी जगह है। जीवन की हर एक बूंद को आप सोख सकते हैं, क्योंकि अभी जो भी आपके पास है, वह अभी है। अभी में जियेंगे तो तनाव नही होगा।

8 हर काम कड़ी मेहनत, दृढ़ता और रचनात्मक ढंग से करें :


सबसे अच्छी सलाह मैं आपको दे सकता हूं कि हर काम इस तरह से करो। जिस तुम खुद संतुष्ट हो जाओ। बहुत थोड़े में सफ़लता की उम्मीद मत लगाओ। बल्कि लंबी दौड़ के लिए तैयार रहें। किसी भी चीज के साथ वास्तविक सफलता आमतौर पर महीनों और यहां तक कि वर्षों तक प्राप्त करने में होती है। खुद पर विश्वास करें और अपने सपनों पर विश्वास करें, सीखते रहें और कभी हार न मानें। अगर आप खुद से संतुष्ट होंगे तो तनाव कम होगा।

9 हर समय विनम्र बने रहें :

क्या आपने कभी अपनी कार रोकी है। कि किसी को सड़क पार करने दें क्या आपने कभी ऐसा किया है और बदले में कोई आभार प्राप्त नहीं किया है ? कोई मुस्कुराहट, कोई इशारा नहीं। अपने शिष्टाचार को स्वीकार करना क्या सरल काम नहीं है ? भले ही यह ऐसा छोटा काम लगता है, लेकिन दूसरों पर इसका प्रभाव बहुत बड़ा है।

शिष्टाचार कुछ ऐसा नहीं है जिसके लिए बहुत प्रयास की आवश्यकता होती है। हाँ यह आश्चर्य की बात है कि यह इन दिनों बहुत कम देखने को मिलता है।

लेकिन अगर हम सब एक दूसरे के प्रति थोड़ा दयालु होने के लिए ठोस प्रयास करते हैं। तो हम अनगिनत लोगों के जीवन में एक वैध अंतर ला सकते हैं।

10 कौन सही है, कि जगह क्या सही है पर ध्यान दें :


इस तरह की चीजें रिश्तों में कई तर्कों की जड़ हैं। लेकिन यही कारण है कि हमें अपने दिमाग में निष्पक्षता रखने की आवश्यकता है। क्या सबसे अधिक समझ में आता है? सभी के लिए क्या उचित है? लक्ष्य को इस तरह से पूरा करें कि हर कोई सहज हो जाए । यह समझ से परे है कि दूसरा व्यक्ति कैसा महसूस कर रहा है। और यह फ़ैसला करने के लिए आपके निर्णय लेने का सही कारक है।

11 आप जो नियंत्रण नहीं कर सकते, उसके बारे में चिंता न करें :

हम अपने जीवन को अपने नियंत्रण से बाहर की चीजों की चिंता में बिताते हैं । एक प्राकृतिक आपदा, एक बड़ी बीमारी या दुर्घटना के शिकार लोग अपने जीवन को ठीक से नही जी पाते, जिस तरह से वे जीते थे। लेकिन वे खुद को आत्म-पीड़ा से भी बचा सकते हैं।


दूसरे शब्दों में, जब तक हम जीवन में आने वाले सभी परिणामों को नियंत्रित नहीं कर सकते। हम निश्चित रूप से इन परिणामों के प्रति अपनी प्रतिक्रियाओं को नियंत्रित कर सकते हैं । अगर बारिश का होना आपके हाथ में है ही नही तो दुखी हो के क्या करोगे।
“अच्छा जीवन प्रेम से प्रेरित और ज्ञान द्वारा निर्देशित है।” – बर्ट्रेंड रसेल

12 एक जिम्मेदार इंसान बनें :

खुद के साथ ईमानदार रहें और जिम्मेदारी संभालने और परिणाम स्वीकार करने के लिए तैयार रहें। क्योंकि सामान्य मानव की प्रवृत्ति गलत काम के लिए जिम्मेदारी को अस्वीकार करने की है। बहुत कम लोग जीवन में अनिवार्य रूप से होने वाली त्रुटियों और हादसों के लिए खुद को जिम्मेदार ठहराने को तैयार रहते हैं।


बेशक, ऐसे हालात हैं जो कभी-कभार हमें साथ ले जाते हैं। जिसके खिलाफ हमारे पास बहुत कम या कोई सहारा नहीं होता परन्तु अगर वो हमारी ज़िम्मेदारी थी तो हमे स्वीकारना चाहिए।

13 खुद को या दुनिया को गंभीरता से मत लो :

गीता की वो लाईन तो सबने सुनी होगी क्या ले कर आये हो क्या ले कर जाओगे। किसी को देना किसी से लेना ये सिर्फ आपके बाहरी विचार हैं। इनमे ज्यादा न उलझें। आप को आने वाले कल का भी पता नही है। चाहे आज कितना भी पहाड़ उखाड लो।

14 अच्छी किताबे पढ़े :

हाँ, आप ऐसी किताबो को पढ़ सकते है जो आपको एक नयी शिक्षा देती हों। जीवन में आगे बढ़ाने की सीख देती हो। आप उन लोगों जीवनी और संघर्ष के बारे मे भी पढ़ सकते हो जिनको आप अपना आदर्श मानते है।

इसके अलावा आप इन्टरनेट पर हमारा ब्लॉग Thriving Boost भी पढ़ सकते हो जो आपको लगातार कुछ नया और बेहतर जीवन जीने की शिक्षा देगा और आपके तनाव को कम करेगा।

15 हर दिन मुस्कुराएं और हंसें :

एक अजनबी की एक साधारण मुस्कान आपके पूरे दिन को चमका सकती है। हंसने से आपकी चिंताएं गायब हो जाती हैं। जितना हो सके हंसने और मुस्कुराने की आदत बनाएं, क्योंकि जब आप ऐसा करते हैं ।तो जीवन बहुत बेहतर होता है।

सकारात्मकता संक्रामक है, और आप पाएंगे कि लोग आपको बहुत अधिक पसंद कर रहे है। और तनाव तो आपके नजदीक भी नही आयेगा।


Thriving Boost
Thriving Boost
Articles: 82
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x